2015 व 17 की बाढ़ में डूब गई थी आधी बिल्डिंग, उसी का जर्जर छज्जा जिरा, Sbi Bank Sanchore Hadsa News

498
0

सांचौर शहर के मुख्य बाजार में स्थित SBI बैंक की बिल्डिंग का छज्जा गिरने (Sbi Bank Sanchore Hadsa News) से एक एएनएम, एक दुकानदार और महिला ग्राहक सहित तीन की मौत हो गई और चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। छज्जा 60 फीट लंबा और तीन फीट चौड़ा था। घटना बुधवार शाम 6.33 बजे की है।

बैंक पहली मंजिल पर है, जो घटना के समय बंद था, लेकिन ग्राउंड फ्लोर पर स्थित दुकानों के आगे खरीदारी करते 10 लोग चपेट में आ गए। वर्ष 2015 और 2017 की बाढ़ के दौरान निचला इलाका होने से यह बिल्डिंग आधी डूब चुकी है।

हादसे में सांचौर रेबारियों का गोलिया निवासी एएनएम विमला (45) पत्नी शंकरलाल गायणा और डूंगरा का गोलिया निवासी मफाराम (44) पुत्र पीराराम पुरोहित की मौके पर ही मौत हो गई। पालड़ी निवासी रंजन (45) पत्नी कृष्णलाल पुरोहित ने बाद में दम तोड़ा। विमला ग्राउंड फ्लोर स्थित एटीएम से पैसे निकालने आई थी। मफाराम की पास में ही दुकान है। हादसे के वक्त वे जीजाजी की दुकान के आगे खड़े थे। रंजनदेवी गुजरात में रहती थी। वे खरीदारी करने आई थी। रंजन का पालनपुर में उपचार के दौरान मौत हुई। हादसे में उसका बेटा और दोहिता भी गंभीर घायल हो गई। पुलिस लोगों को बाहर निकाल अस्पताल पहुंचाया।

तत्परता : छज्जे के साथ रैलिंग में करंट भी दौड़ा, बिजली बंद करवा 8 मिनट में सबको निकाला

रैलिंग लोहे की होने से टूटते समय एक बिजली का तार टच हो गया। रेस्क्यू के दौरान करंट महसूस होने लगा। तत्काल बिजली बंद करवा दी। जिसके बाद प्रशासन व आसपास के लोगों ने रेस्क्यू करते हुए मात्र 8 मिनट में बाहर निकाल कर अस्पताल पहुंचाया गया।

लापरवाही (Sbi Bank Sanchore Hadsa News)

यह बिल्डिंग दो बार बाढ़ में आधी डूब चुकी है, फिर भी ऊपर बैंक और नीचे दुकानें चल रही हैं। पुलिस ने बिल्डिंग मालिक दिलीप पुत्र उकचंद बोकडिय़ा के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। बोकड़िया का कहना है कि बैंक को मार्च 2018 में ही खाली करने का नोटिस दे चुका था, लेकिन नवंबर 2022 का करार होने से खाली नहीं किया जा रहा। व्यापारी गुरुवार दोपहर 12 बजे तक बाजार बंद रखेंगे।

हादसे में ये हुए घायल

हादसे में मृतक रंजन की पुत्री उन्नति (20) पुत्री कृष्णलाल पुरोहित, मृतक विमला गायण के पुत्र रामकृष्ण (21) पुत्र शंकरलाल गायणा व दोहिता आयुष(02) पुत्र नरेश एवं बैक गार्ड जीवणसिंह गंभीर घायल हो गए।

विमला एटीएम से बाहर आई ही थी कि छज्जा गिर गया, हाथ में रह गया कार्ड

एएनएम विमला विश्रोई सांचौर के अगार में कार्यरत थी। बुधवार शाम को बैंक के नीचे स्थित एटीएम में पैसे निकालने के लिए अपने बेटे व दोहिते के साथ आई थी। एटीएम से पैसे निकालकर जैसे ही बाहर आई तभी तक छज्जा मौत बनकर उस पर गिर गया। एएनएम की मौके पर ही दबने से मौत हो गई, जबकि बेटा व भाई को गंभीर चोटें पहुंचीं। मौत के बाद भी उसके हाथ में एटीएम कार्ड पकड़ा हुआ था।

जहां छज्जा गिरा, वहां 5 किराणा स्टोर और एक एटीएम, सभी पर लगी थी भीड़

शाम का समय होने से बैंक (Sbi Bank Sanchore Hadsa News) बंद होने की वजह से उस समय इतनी भीड़ नहीं थी। मुख्य के मुख्य बाजार की तरफ से यह छज्जा गिरा। जहां छज्जा गिरा था उसके नीचे 5 किराणा स्टाेर सहित अन्य दुकानें हैं। एक एटीएम व गेट लगा है। करीब 60 फीट की लंबाई में एक साथ यह छज्जा गिर गया। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार मात्र 2 सेकंड में यह हादसा हो गया।

प्रत्यक्षदर्शी : तेज धमाका सुना, कुछ समझते तब तक अफरा-तफरी मच गई…

मेडिकल व्यापारी नारायणसिंह राव ने बताया कि हादसे के सामने मैं मेरी दुकान पर ग्राहक को सामान दे रहा था। शाम का समय व बैंक बंद होने से भीड़ कम थी। तभी अचानक छज्जा नीचे आ गिरा। लोग चिल्लाते सुनाई दे रहे थे। बड़ी संख्या में लोग बचाव में जुट गए। कुछ समय पहले हादसा होता तो कई लोगों की जान चली जाती। – नारायण सिंह राव

सोहनलाल विश्रोई ने बताया कि बैंक की आगे की रोड से निकल रहा था। इस दौरान तेज धमाके की आवाज सुनाई दी। बैंक की तरफ देखा तो पूरी तरह से हाहाकार मच गई थी। दबे लोग चिल्लाने लगे। हम भी मदद के लिए इधर-उधर दौड़े। मात्र 2 सैंकड में यह हादसा हो गया। – सोहनलाल विश्नोई

न्यूज़ क्रेडिट:- दैनिक भास्कर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here